शिक्षामंत्री विजय इंद्र सिंगला के आदेश के बाद वीरवार को 5वीं से 8वीं तक के बच्चे स्कूल पहुंचे। पहले दिन सरकारी स्कूलों में हाजिरी 10 फीसदी रही जबकि ज्यादातर निजी स्कूलों ने स्टूडेंट्स को नहीं बुलाया। निजी स्कूलों ने इतनी जल्दी स्कूल खोलने के शिक्षामंत्री के आदेश को ठीक न मानते हुए पेरेंट्स की इजाजत व पूरी तैयारी के साथ ही 5वीं से 8वीं तक के बच्चों को बुलाने की बात कही। कुछ निजी स्कूल सोमवार से स्कूल खोलने की प्लानिंग कर रहे हैं और कुछ अभी पेरेंट्स की कंसेंट के साथ ही अगले 10 दिनों तक डिसाइड करेंगे।

शिक्षा विभाग की ओर से पहले ही 7 व 8 जनवरी को पेरेंट्स टीचर मीटिंग करवाने के आदेश जारी किए गए थे। इसलिए कुछ बच्चे पेरेंट्स के साथ स्कूल पहुंचे तो कुछ स्टूडेंट्स सुबह स्कूल के समय ही पहुंच गए और पेरेंट्स मीटिंग के लिए आए पेरेंट्स के साथ ही चले गए। स्कूल में पेरेंट्स को मौके पर ही डीईओ आफिस की ओर से जारी कंसर्ट लेटर दी गई। जिसे स्कूल आते समय स्टूडेंट्स को साथ में लाना होगा।

वहीं, शिक्षामंत्री विजय इंद्र सिंगला को खुश करने के लिए स्कूलों ने पीटीएम में आए बच्चों को भी अटेंडेंस में जोड़कर दिखा दिया है। सरकारी आंकड़ों के मुताबिक जिला लुधियाना में पहले दिन 5वीं क्लास में बच्चों की हाजिरी 47.87 फीसदी दिखाई गई है। जबकि टीम ने कुछ स्कूलों में दौरा किया तो वहां उपस्थित 10 फीसदी की करीब ही रही।